Home Sarkari Yojana

ppf और Sukanya Samriddhi Yojana से जुड़े लोगों के लिए एक बड़ी खबर -apkiindiapost

113
0
Sukanya Samriddhi Yojana
Sukanya Samriddhi Yojana

[ad_1]

ppf और Sukanya Samriddhi Yojana से जुड़े लोगों के लिए एक बड़ी खबर – छोटी बचत योजनाएँ: सरकार द्वारा कई योजनाएँ चलाई जा रही हैं जिनमें कई बचत योजनाएँ भी शामिल हैं। जैसे- एनएससी, ppf और Sukanya Samriddhi Yojana आदि। इन बचत योजनाओं में निवेश करने वालों के लिए अच्छी खबर है। दरअसल, इन योजनाओं जैसे एनएससी, पीपीएफ और Sukanya Samriddhi Yojana आदि की ब्याज दरों में बढ़ोतरी की उम्मीद है। जाहिर है इससे करोड़ों लोगों को फायदा होगा।

Sukanya Samriddhi Yojana

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आरबीआई ने एक बार फिर रेपो रेट में 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है, जिसके बाद सरकार की बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में 0.50 से 0.75 फीसदी की बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. जानकारी के लिए बता दें कि आरबीआई ने रेपो रेट में 90 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है।

Rail Passengers PAN Card Aadhaar Card Apply Now: 2022 बड़ी खुशखबरी

 

बचत योजनाओं पर ब्याज दरें बढ़ने की उम्मीद:

 

आपको बता दें कि आरबीआई के रेपो रेट बढ़ाने के फैसले के बाद कई बैंकों ने जमा पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी शुरू कर दी है। ऐसे में इन बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी की भी उम्मीद है। आरबीआई ने इससे पहले 4 मई को रेपो रेट में बढ़ोतरी की थी। इसके बाद अब जून को रेपो रेट को कुल 90 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 4.90 फीसदी कर दिया गया है।

 

 Sukanya Samriddhi Yojana

 

आपको बता दें कि हर तिमाही के शुरू होने से पहले वित्त मंत्रालय बचत योजनाओं की ब्याज दरों की समीक्षा और घोषणा करता है। अब ऐसे में अगर वित्त मंत्रालय इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए इन बचत योजनाओं की ब्याज दरों की समीक्षा करेगा तो इन बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की जा सकती है.

अभी क्या है बचत योजनाओं पर ब्याज दर:

 

वर्तमान में सार्वजनिक भविष्य निधि पर ब्याज दर 7.1 प्रतिशत प्रतिवर्ष है, जबकि राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर ब्याज दर 6.8 प्रतिशत है। Sukanya Samridhi Yojana पर ब्याज दर 7.6 प्रतिशत है। वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दर 7.4 प्रतिशत है। किसान विकास पत्र पर ब्याज दर 6.9 प्रतिशत है। एक साल की सावधि जमा योजना की ब्याज दर 5.5 प्रतिशत है। एक से पांच साल की सावधि जमा पर ब्याज दर 5.5-6.7 फीसदी है। वहीं, 5 साल की जमा योजना पर ब्याज दर 5.8 फीसदी है।

 

अप्रैल 2020 में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं:

 

जानकारी के लिए बता दें कि 2020-21 की पहली तिमाही के बाद से छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. इससे पहले, वित्त मंत्रालय ने एक अधिसूचना में कहा कि, वित्तीय वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के लिए विभिन्न छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर, 1 अप्रैल, 2022 से शुरू होकर 30 जून, 2022 को चौथी तिमाही के लिए। (जनवरी) रुपये के लिए लागू मौजूदा दरों से अपरिवर्तित रहेगा। दरअसल, छोटी बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरें तिमाही आधार पर अधिसूचित की जाती हैं।

read more:-

 

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here